टोपियों के ऊपर क्यों लगा होता है बटन? अनोखा है कारण मगर विचित्र है नाम! देखिए video

टोपियों के ऊपर क्यों लगा होता है बटन? अनोखा है कारण मगर विचित्र है नाम! देखिए video

गर्मी का मौसम है और बचने के लिए लोग धूप से बचने के लिए टोपी का इस्तेमाल तो जरूर करते हैं. आपने भी कभी ना कभी टोपी तो जरूर लगाई होगी. पर क्या आपने कभी ये गौर किया है कि टोपी के ऊपर एक बटन (Use of button on top of cap) लगा होता है. मुमकिन है गौर किया होगा और आपके मन में सवाल भी आया होगा कि उसका काम क्या होता है. चलिए हम आज आपको इस बटन (What is button on top of cap called) के बारे में बताते हैं.

मीडियम वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार जिन टोपियों पर बटन (button on caps) होता है उन्हें बेसबॉल कैप कहा जाता है क्योंकि ऐसी टोपियां बेसबॉल खेलने वाले खिलाड़ी लगाते हैं. हालांकि, अब इस डिजाइन की टोपियां क्रिकेट जैसे खेलों में भी देखने को मिल जाती हैं और आम लोग इसका इस्तेमाल धूप से बचने के लिए करते हैं. टोपी पर लगे बटन को ‘स्क्वैची’ (squatchee) या ‘स्क्वैचो’ (squatcho) कहते हैं.

किस काम के लिए होता है बटन?

टोपियों पर लगा बटन बड़े ही काम का होता है. (फोटो: Canva)

चलिए आपको बताते हैं कि इसका काम क्या होता है. टोपी (Why button is there on top of baseball cap) का ऊपरी हिस्सा अलग-अलग कपड़ों को जोड़कर बनाया जाता है. टोपी पर सिले गये सब कपड़ों के टुकड़े टोपी के ऊपर, बीचोंबीच में जमा हो जाते हैं जो दिखने में खराब लगता है. इस छिद्र को ढ़कने के लिए और टोपी के लुक को सुंदर बनाने के लिए गोलाकार बटननुमा आकृति लगा दी जाती है.

कैसे मिला बटन को नाम?

अब आप सोचेंगे कि इस बटन का इतना अजीबोगरीब नाम कैसे पड़ा. दरअसल, ये नाम देने का श्रेय जाता है बेसबॉल के कमेंटेटर बॉब ब्रेन्ली को जो पहले एक खिलाड़ी भी थे. उन्होंने एक इंटरव्यू में खुलासा किया था कि पहली बार ये नाम उन्होंने 1980 के दौरान सैन फ्रांसिस्को जायंट्स के अपने एक टीममेट से सुना था जिसका नाम माइक क्रूको था. जब माइक से पूछा गया कि उन्होंने इस शब्द को कहां से सुना तो उन्होंने बताया कि ये शब्द उन्होंने साल 1984 में पिट्सबर्ग बुकस्टोर में सिंगलेट्स नाम की एक किताब में पढ़ा था जिसमें ऐसे शब्द दिए गए थे जो डिक्शनरी में होने चाहिए ते मगर नहीं थे. उस किताब में स्क्वैचो शब्द, टोपी पर लगे बटन के लिए बताया गया था. तब से ये शब्द काफी पॉपुलर हो गया. नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *