Supreme Court कैसे काम करता है और SC का Advocate कैसे बनें?

Supreme Court कैसे काम करता है और SC का Advocate कैसे बनें?

दोस्तो जैसा कि आप जानते है कि वकील  बनना अपने आप मे गौरव की बात है, और वही अगर आप सुप्रीम कोर्ट या फिर हाई कोर्ट के वकील बन गए तो आपको इज्जत के साथ पैसा भी भरपूर मिलेगा । वहीं देश में ऐसे कई वकील है जो हमेशा चर्चा का विषय बने रहते है जिनसे आप भी रूबरू होंगे जैसे कि राम जेठमलानी, कपिल सिब्बल, पी चिदंबरम इत्यादि ।

जरूरी नही की आप इतने बड़े वकील बने लेकिन अगर आप सामान्य स्तर के भी वकील बन गए तो आप अच्छे नाम के साथ अच्छा पैसा भी कम सकेंगे । खैर वकील बनने के लिए आपको अच्छे संस्थान से लॉ ( LLB ) के पढ़ाई करने जरूरी है और इसके लिए ऑल इंडिया लेवल का CLAT Exam होता है । इस आर्टिकल में हम नीचे दिए गए सभी पॉइंट्स को कवर करने वाले है आइये जानते है ।

वकील कौन बन सकता है ?

कोई भी ऐसा व्यक्ति जिसने अपने 12th पूरी कर ली है वो वकालत ( LLB ) की पढ़ाई शुरू कर सकता है, वकालत की पढ़ाई को हम LLB कोर्स कहते है । इस कोर्स में उत्तीर्ण होने के बाद आप वकील बन सकते है और अनुभवी वकीलों के साथ ट्रेनिंग ले सकते है जो कि बेहद जरूरी है ।

वैसे इस क्षेत्र में सफलता पाने के लिए आपकी सोच दुसरो से थोड़ी बहुत अलग होनी चाहिए, जिसके लिए आपको पढ़ने की आदत हो, भाषा पर पकड़ और टीम भावना, तर्क वितर्क करना, किसी भी मुद्दे पर बात करना, निर्णय लेने की क्षमता जैसी चीजे आपके अंदर मौजूद होनी चाहिए तभी आप क्षेत्र में सफल हो पाएंगे ।

वकील का आखिर काम क्या होता है और वकालत किस तरह की होती है ?

वकालत का क्षेत्र बहुत बड़ा है उधाहरण के तौर पर आप डॉक्टर को रख सकते है, नाम से सभी लोग उन्हें डॉक्टर समझते है लेकिन सभी डॉक्टर का अपना अपना स्पेशल एरिया होता है या किसी एक चीज़ में एक्सपर्ट होते है ठीक उसी तरह वकील का होता है ।एक वकील अपने क्लाइंट को कायदे कानून के अनुसार मार्ग दिखाते है, कानूनी पेपर तैयार करने से लेकर कोर्ट में अपने क्लाइंट के लिए बहस भी करते है । वकील को भारत के संविधान के अनुसार ही चलना होता है और संविधान में बताए गए नियमो के अनुसार ही अपने क्लाइंट की मदत करे ।

वकालत ( LLB ) के क्षेत्र में कौन कौन से कोर्स उपलब्ध है ?

इस क्षेत्र में आप अपनी 12th की पढ़ाई करने के बाद आप BA LLB का 5 वर्षीय कोर्स कर सकते है या फिर आप ग्रेजुएशन के बाद 3 वर्षीय LLB का कोर्स कर सकते है । इसके लिए जरूरी नही है आप साइंस से हो या कॉमर्स से आप किसी भी स्ट्रीम से वकालत की पढ़ाई कर सकते हो ।

प्रमुख कोर्स की बात करे तो B.com LLB, BA LLB, LLB आदि, देश मे कई यूनिवर्सिटी लॉ की पढ़ाई करवाती है और तो और भारत के हर जिले में लॉ के कॉलेज मौजूद है इसकी पढ़ाई करने के लिए आपको बाहर राज्य या शहर जाने की जरूरत नही है ।

CLAT क्या है ?

अगर देश के अच्छे और टॉप कॉलेज से LLB की पढ़ाई करना चाहते है तो आपको एक बेहद है कड़े कंपीटिशन से गुजरना होता है जिसे हम CLAT कहते है । देश की टॉप 19 लॉ यूनिवर्सिटी में एडमिशन पाने के लिए ये टेस्ट होता है, ऐसा कहा जाता है कि इन यूनिवर्सिटीज में एडमिशन मिलने के बाद आपको वकालत ( lawyer ) की टॉप पोजीशन में पहुचने से कोई रोक नही सकता ।

CLAT के लिए क्या क्वालिफिकेशन चाहिए ?

आपको बता दे कि CLAT परीक्षा का फॉर्म भरने के लिए आपको किसी भी सब्जेक्ट के साथ 12th कम से कम जनरल और ओबीसी कैटेगरी विद्यार्थियों के लिए 45 प्रतिशत अंको के साथ पास करना अनिवार्य है और वही एससी/एसटी विद्यार्थियों के लिए 40 प्रतिशत के 12th पास होना अनिवार्य है ।

CLAT का सिलेबस क्या है ?

ये पॉइंट बेहद ही महत्वपूर्ण है क्योंकि ज्यादातर विद्यार्थी इसी में कंफ्यूज़ रहते हैं । आपको बता दूं कि एग्जाम दो घंटे का होता है और 200 प्रश्न होते है, प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक मिलता है वही गलत उत्तर देने पर 1/4 के नेगेटिव मार्किंग होती है यानी 4 गलत उत्तर देने पर आपका 1 नंबर काट दिया जाएगा ।

लॉ ( LLB ) की डिग्री लेने के बाद आप हाईकोर्ट या सुप्रीमकोर्ट के वकील कैसे बनेंगे ?

हाइकोर्ट का वकील कैसे बने

आपको बता दूं कि लॉ की डिग्री यानी LLB पूरी होने के बाद आपको स्टेट बार काउंसिल से लाइसेंस लेना होता है, बिना लाइंसेंस के आप किसी भी क्लाइंट का मुकद्दमा नही लड़ सकते है । लाइसेंस लेने के बाद आपको कम से कम 5 साल का अनुभव होना चाहिए लोअर कोर्ट में वकालत करने का । तभी आप हाई कोर्ट में वकालत कर सकते है । वही अगर आप चाहते है सीधा हाई कोर्ट में वकालत करना तो आप सीधा हाई कोर्ट के किसी वकील के अंडर इनट्रंशिप कर सकते है ।

सुप्रीमकोर्ट का वकील कैसे बने

सुप्रीम कोर्ट में वकालत करने के लिए आपको सुप्रीम कोर्ट का एक एग्जाम देना होता है जिसका नाम है “Advocate on Record Exam” । इस एग्जाम को देने से पहले आपको हाई कोर्ट में 5 साल की वकालत का अनुभव होना चाहिए या सुप्रीम कोर्ट की किसी वकील के अंडर 5 साल की इनट्रंशिप का अनुभव होना चाहिए ।

उम्मीद है दोस्तो आपको इस आर्टिकल से वकील बनने में आसानी होगी या फिर आपके सभी कंफ्यूसन दूर हो चुके होंगे । अगर हमारा आर्टिकल अच्छा लगा तो दोस्तो के साथ शेयर करे, हमसे जुड़ने के लिए हमें फेसबुक और इंस्टाग्राम पेज पर फॉलो करें और मन मे कोई बात तो या डाउट हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में शेयर करे । नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *