चांद पर 50 साल बाद आज भी पड़ी हुई है ये फोटो, इस अंतरिक्ष यात्री ने तस्वीर के पीछे छोड़ा था ये मैसेज l देखिए video

चांद पर 50 साल बाद आज भी पड़ी हुई है ये फोटो, इस अंतरिक्ष यात्री ने तस्वीर के पीछे छोड़ा था ये मैसेज l देखिए video

चांद पर इंसान के पहुंचने का सपना 20 जुलाई 1969 को पूरा हो गया था, जब नील आर्मस्ट्रांग ने पहली बार अपने कदम चंद्रमा की धरती पर रखे थे। अब कई स्पेस एजेंसियां हैं जो अंतरिक्ष यात्रा को आम लोगों के लिए भी आसान बनाने की कोशिश कर रही हैं। आने वाले समय में इन एजेंसियों का लक्ष्य है कि स्पेस में होटल बनाए जाएं जहां लोग अपने परिवार के साथ जा सकें। फिर तो आप भी अपनी फैमिली के साथ अंतरिक्ष में जा सकेंगे। लेकिन अगर हम कहें कि अंतरिक्ष में एक परिवार पहले ही पहुंच चुका है तो क्या आप यकीन करेंगे। अंतरिक्ष ही नहीं बल्कि ये परिवार चांद पर भी पहुंच चुका है।

moon (1)

इस परिवार में पति-पत्नी और उनके दो बच्चे हैं। ये परिवार अपोलो 16 मिशन के सदस्य रहे चार्ली ड्यूक का है। हालांकि ये परिवार सच में चांद पर नहीं गया, बल्कि इसकी एक तस्वीर वहां गई, जो आज भी वहीं पर है। 1972 में चार्ली ड्यूक अंतरिक्ष में गए थे। चार्ली ड्यूक 10वें और सबसे युवा व्यक्ति हैं जिन्होंने चांद की सतह पर कदम रखा था। इस मिशन के सभी अंतरिक्ष यात्रियों को अपना कोई एक सामान चांद पर ले जाने की इजाजत थी। ड्यूक ने इसका फायदा उठाया और अपने परिवार की फोटो लेकर गए।

फोटो के पीछे लिखा ये मैसेज

चार्ली ड्यूक बताते हैं कि ट्रेनिंग के दौरान वह अपने परिवार से दूर रहते थे। उनके बच्चे छोटे थे जो लगातार अंतरिक्ष और चांद को लेकर पूछते रहते थे। एक दिन उन्होंने पूछा कि क्या हम पूरे परिवार के साथ चांद पर जा सकते हैं, जिस पर चार्ली ड्यूक ने कहा कि हम सच में तो नहीं जा सकते, लेकिन हमारी फोटो जा सकती है। चार्ली कहते हैं कि हमने नासा के फोटोग्राफर लूडी बेंजामिन को तस्वीर खींचने के लिए बुलाया। उन्होंने मेरी पत्नी के साथ दोनों बच्चों की तस्वीर खींची। उन्होंने आगे कहा कि तस्वीर के पीछे सभी ने अपने हस्ताक्षर किए और मैसेज लिखा, ‘ये पृथ्वी ग्रह के अंतरिक्ष यात्री चार्ली ड्यूक का परिवार है, जिन्होंने अप्रैल 1972 में चांद पर लैंड किया।’

Charlie duke

चांद की सतह पर रखी फोटो

चार्ली ड्यूक कहते हैं कि उन्होंने जब इस बारे में नासा मैनेजमेंट को बताया को इजाजत मिल गई कि मैं चांद पर तस्वीर ले जा सकता हूं। उन्होंने कहा कि चांद पर तीन दिन रहने के दौरान मैंने अंत में अपने स्पेस सूट के जेब से फोटो निकाली और उसे चांद की सतह पर छोड़ दिया। किस्मत से ये तस्वीर सीधी गिरी, जिसकी उन्होंने फोटो खींच ली। नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *