किस देश में होती हे कुतो की पूजा l देखिए video

किस देश में होती हे कुतो की पूजा l देखिए video

कुत्ते इंसानों के सबसे वफादार दोस्त माने जाते हैं. प्राचीन काल से ही इंसान और कुत्तों के बीच अनोखे रिश्ते के कई सबूत मिलते रहे हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया में कई ऐसी जगह भी हैं जहां कुत्तों को खुदा का दर्जा भी दिया गया है. प्राचीन भारत (India), इजिप्ट (Egypt), ग्रीस(Greece), रोम (Rome) और मेक्सिको (Mexico) समेत कई जगह कुत्तों की पूजा करने का एक लंबा इतिहास (History) रहा है. आपको यह जानकर हैरानी होगी कि दुनिया की कई सभ्यताएं ऐसी भी हैं जहां पपी (Puppy) यानी कुत्ते के छोटे बच्चों को भी देवता माना जाता है. इनमें से कई ब्रीड बहुत फेमस भी हैं. जैसे कि अनुबिस (Anubis) की पूजा करने वाले उन्हें ‘द गॉड ऑफ द डेड’ (The God of the dead) का दर्जा देते हैं. वहीं सेर्बरस (Cerberus ) को ‘द फेरोशियस थ्री हेडेड पप्पी’ (The ferocious three headed puppy) के नाम से भी जाना जाता है.

हम इन्हीं डॉग गॉड्स (Dog Gods) के बारे में यहां बात करेंगे.

अनुबिस

चलिए सबसे पहले अनुबिस कुत्तों के इतिहास और उनसे जुड़ी मान्यताओं (Mythologies) की बात करते हैं. प्राचीन इजिप्ट (Ancient Egypt) के बारे में की गई खोज से मिली जानकारी के मुताबिक अनुबिस को ‘मास्टर ऑफ सीक्रेट्स’ (Master of Secrets) या ‘द डॉग हु स्वालउस मिलियंस'( The Dog Who Swallows Millions) भी कहा जाता है. बताया जाता है कि उन्हें ये उपाधि कब्रिस्तानों (Cemetery) के संरक्षक (Guards) के रूप देखे जाने की वजह से दी गयी है. खास बात ये है कि इनको दर्शाने के लिए जो चित्र बनाये गए थे उनमें इनका शरीर तो मानव जैसा है लेकिन सिर कुत्ते का है.
आपको यह भी बता दें कि बावजूद इसके कि बाद में इनका स्थान हरे चेहरे वाले गॉड ओसिरिस (Green faced god Osiris) को दिया गया, फिर भी यह मिस्र के देवताओं में से एक रहे.

इनसे जुड़ी मान्यता क्या है?

दरअसल, मान्यता के अनुसार अनुबिस जिंदगी के अंतिम क्षणों में प्रकट होते हैं और इंसान के मरने के बाद उसके दिल को फ़ीदर ऑफ मा’त (Feather of Ma’at) या सच्चाई (Truth) से तोलते हैं और अगर मृतक का दिल इससे भारी निकल जाता है तो मृतक को एक भयानक राक्षस (Dangerous monster) के हवाले कर दिया जाता है.

मान्यता के अनुसार यह इजिप्टियन डॉग-गॉड (Egyptian Dog-God) मरे हुए इंसान (Dead person) को दफनाने के समय भी अहम भूमिका अदा करते हैं. ममी को दफनाते समय पुजारी (Priest) मृतक के मुंह को खोलते (Opening the mouth) हैं ताकि वह मरने के बाद (Afterlife) सांस ले सके और बोल सके. फिरोन (Pharaohs)और नोबल्स (Nobles) में अमूमन ममी (Mummy) के पास अनुबिस की मूर्ति (Statue) उनकी रक्षा के लिए रखी जाती है.

अनपुट 

वहीं अनुबिस की पत्नी अनपुट  जिसने मान्यता के अनुसार सियार (Jackal) का रूप ले लिया था. आपको बता दें कि अनुपुट को एक ऐसी स्त्री जिसने लेटे हुए सियार वाले क्राउन (Crown with a recumbent jackal on top) को अपने सिर पर पहना हुआ है, ऐसे भी दर्शाया गया है.

वेपवावेट

वहीं अगर वेपवावेट  की बात की जाए तो उन्हें सफेद या ग्रे कलर का दिखाया गया है. जानकारी के अनुसार यह अनुबिस के ही भाई हैं. इन्हें ‘द वन हू ओपन्स द वे’ (The one who opens the way) जिसका मतलब यह बताया गया है कि वह गॉड जो जीव के मरने के बाद उसकी आत्मा को रास्ता दिखाते हैं.

डुआमुटेफ़ (Duamutef)

मिस्र के बाज़-देवता होरस (Falcon-God Horus) के चार बेटों में से एक, डुआमुटेफ़ (Duamutef) डॉग अक्सर कैनोपिक जार (Canopic jar) में पाया जाता है. इन पत्थर या मिट्टी के बर्तनों में ममीकरण की प्रक्रिया (Mummification) के दौरान शरीर से निकाले गए इंटर्नल ऑर्गन्स (Internal organs) को रखा जाता था, और मृतक के साथ कब्र में दफनाया जाता था. आपको बता दें कि प्राचीन काल में, युद्ध के दौरान पेट में चोट लगना आमतौर पर घातक होता था. डुआमुटेफ़, इस पेट और युद्ध में गिरने वालों का रक्षक बन गया. गौरतलब है कि डुआमुटेफ़ का नाम ही हू अडोर्स हिज मदर लैंड (He who adores his mother land) से पड़ा है.

जोलोटल 

मध्य मेक्सिको (Central Mexico) की एज़्टेक संस्कृति (Aztec culture) में कई भयानक देवता (Terrifying God) हैं, लेकिन जोलोटल  निश्चित रूप से सबसे डरावने माने जाते हैं. मान्यता के अनुसार वह आग और बिजली के देवता, वह राक्षसों और बीमारी के संरक्षक भी हैं और वह इंसान के मरने के बाद आत्मा को रास्ता दिखाते हैं.

शवन

हिंदू पौराणिक कथाओं (Hindu mythology) में, भैरव  के रूप में भगवान शिव (Lord Shiva) के साथ उनके ‘वाहन’ या पर्वत बनकर रहने वाला शवन  नाम का एक कुत्ता है. भैरव का अर्थ है ‘भयानक रूप’ और उन्हें एक ऐसे देवता के रूप में जाना जाता है जो भय को नष्ट कर देते हैं या अपने भक्तों से डर को दूर कर देते हैं.

निन्सन (Ninsun), गुला और बाउ

प्राचीन सुमेर (आधुनिक इराक) में, गॉडेस ऑफ हीलिंग (Goddess of healing) निन्सन (Ninsun) का सम्बंध भी कुत्तों से ही है. इनका जिक्र गिलगमेश (Gilgamesh) के महाकाव्य (2100 ईसा पूर्व के आसपास लिखा गया) में किया गया है, और समय के साथ अन्य प्राचीन उपचार करने वाले देवताओं जैसे गुला (Gula) और बाउ (Bau) के साथ इनका विलय कर दिया गया था.

सेर्बरस (Cerberus)

ग्रीक पौराणिक कथाओं (Greek mythologies) का मूल नरक-शिकारी (Hell-hound), सेर्बरस (Cerberus) अंडरवर्ल्ड (Underworld) के रास्ते की रक्षा करता है. बताया जाता है कि इसके 3 सिर हैं. नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *