‘जुगाड़ वाले बाबा’ का वीडियो इंटरनेट पर छाया, स्पेशल हेलमेट देखकर जनता इंप्रेस हो गई

‘जुगाड़ वाले बाबा’ का वीडियो इंटरनेट पर छाया, स्पेशल हेलमेट देखकर जनता इंप्रेस हो गई

सोशल मीडिया पर एक बाबा जी का वीडियो खूब देखा जा रहा है। यह क्लिप उत्तर प्रदेश का बताया जा रहा है। वायरल वीडियो में एक भगवाधारी बाबा खास तरह का हेलमेट पहने हैं, जिसे ‘देसी जुगाड़’ की तकनीक से तैयार किया गया है। इस हेलमेट में सोलर प्लेट के साथ एक पंखा फिट किया गया है। जी हां, जो भी इस हेलमेट को पहनकर धूप में जाएगा, वह गर्मी से अपने चेहरे को बचा लेगा। बाबा कहते भी हैं कि चेहरा ही सारे संसार का ईंधन है, अगर यह नहीं तो कुछ नहीं है। इस नोट पर वीडियो का अंत हो जाता है। …तो भैया, कैसा लगा आपको यह जुगाड़ कमेंट सेक्शन में लिखकर जरूर बताएं।

क्या है इस वीडियो में?

desi jugaad video: baba wearing solar powered helmet with fan tweeple says what an idea sir ji

बाबा सड़क से गुजर रहे थे कि तभी एक बंदे की नजर उन पर पड़ती है। वह बाबा का अनोखा हेलमेट देखकर उत्सुक हो जाता है। वह पूछता है कि बाबा जी यह क्या सिस्टम बनाया है? बाबा बोलते हैं कि गर्मी से बचने के लिए उन्होंने यह जुगाड़ बैठाया है। दरअसल, इस स्पेशल हेलमेट के अगले हिस्से में एक पंखा लगाया है। जबकि पिछले हिस्से में छोटा सी सोलर प्लेट लगी है, जिससे उर्जा बनती है और पंखा चलता है। बाबा बताते हैं कि छांव में जाने पर पंखा बंद हो जाता है। वह ये भी बोलते हैं कि जितनी तगड़ी धूप होगी उतनी ही तेजी से यह फैन चलेगा। जबकि छांव में जाते ही यह धीमा या फिर बंद पड़ जाता है।

लोगों को पसंद आया ये जुगाड़

यह वीडियो सोशल मीडिया के तमाम प्लेटफॉर्म पर फैल चुका है। हो सकता है कि आपको भी किसी ने वॉट्सऐप पर भेजा हो। अगर अब तक ये क्लिप नहीं देखा है, तो फटाफट देख लीजिए! सही में, मजा आ जाएगा। साथ ही, यह समझ जाएंगे कि भारत में ‘जुगाड़’ इतना मशहूर क्यों है। इस कमाल के जुगाड़ को देखकर जहां बहुत से यूजर्स ने बाबा जी के विचार की सराहना की, तो वहीं कुछ ने कहा कि गर्मी से बचने का ये जुगाड़ अचूक है। और हां, अगर आपने कभी ऐसा धांसू जुगाड़ू देखा है तो कमेंट में जरूर बताएं और शेयर करें। नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *