GDP के हिसाब से भारत के 10 सबसे अमीर शहर | देखिए video

GDP के हिसाब से भारत के 10 सबसे अमीर शहर | देखिए video

दोस्तों हमारा भारत देश जनसंख्या और क्षेत्रफल के हिसाब से दुनिया के ऐसे टॉप 10 देशों में आता है. जनसंख्या में भले ही चीन सबसे आगे है, लेकिन भारत दूसरे स्थान पर है, वहीं क्षेत्रफल में सातवें नंबर पर मौजूद है. लेकिन अगर देश की अर्थव्यवस्था की बात करें तो भारत शीर्ष देशों में आता है. क्योंकि भारत एक विकासशील देश है. हालाँकि, हमारे भारत देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने की आवश्यकता है. लेकिन कई शहर भारत की आर्थिक स्थिति को सुधारने में मददगार हैं. जिससे भारत की आर्थिक स्थिति बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है. अगर ऐसा ही चलता रहा तो जल्द ही भारत एक पूर्ण विकसित देश बन जाएगा.

अगर भारत के सबसे अमीर शहरों की बात करें, तो सबसे पहले भारत के बड़े शहरों का नाम आता है. लेकिन हर कोई जानना चाहता है कि अमीर और गरीब देशों को कैसे आंका जाता है, तो आपको बता दें कि इसका पता जीडीपी (GDP) की मदद से लगाया जाता है.

भारत के 10 सबसे अमीर शहर

1. मुंबई – Mumbai

Bharat Ka Sabse Amir Shahar Konsa Hai - भारत के 10 सबसे अमीर शहर जाने यहां

मुंबई भारत के सबसे अमीर शहरों में पहले स्थान पर है. क्योंकि मुंबई की आर्थिक राजधानी मानी जाने वाली मुंबई भारत का अमीर सबसे बड़ा शहर है. देश के सबसे अमीर लोग मुंबई में रहते हैं. मुंबई महाराष्ट्र की राजधानी है. इस बंदरगाह शहर का देश की अर्थव्यवस्था में 70 प्रतिशत लेनदेन होता है. इसके अलावा यह शहर कुल भारतीय अर्थव्यवस्था में 6 प्रतिशत का योगदान देता है. इतना ही यहा लगभग 46,000 करोड़पति और 28 अरबपति मुंबई में रहते हैं, भारत की वित्तीय राजधानी मुंबई में $310 billion की अनुमानित GDP के साथ सूची में सबसे ऊपर है.

2. दिल्ली – Delhi

भारत की राजधानी दिल्ली है, जो भारत के सबसे अमीर शहरों की सूची में दूसरे नंबर पर आती है. आपको बता दें कि दिल्ली में बहुत अमीर लोग रहते हैं. क्योंकि यहां सरकार और आर्थिक सरकार के लोग काम करते हैं. सेवा क्षेत्र में अर्थव्यवस्था में दिल्ली का योगदान 80% है, इसीलिए दिल्ली देश के सबसे बड़े इंफ्रास्ट्रक्चर हब के रूप में उभरा है. दिल्ली में करीब 26,000 करोड़पति और 18 अरबपति रहते हैं. इस समय दिल्ली की कुल जीडीपी 215 अरब डॉलर है. तभी तो के लिस्ट में द्वितीय स्थान पर है.

3. कोलकाता – Kolkata

कोलकाता भारत के सबसे अमीर शहरों में से एक है. जो भारत के सबसे अमीर शहरों में तीसरे नंबर पर है. आपको बता दें कि दिल्ली से पहले कोलकाता भारत की राजधानी हुआ करती थी. इसे एक बंदरगाह शहर भी माना जाता है. कई बड़ी वैश्विक कंपनियों के मुख्यालय यहां स्थित हैं. यहां 9600 करोड़पति और 4 अरबपति भी रहते हैं. साथ ही आपको बता दें कि कोलकाता उत्तर पूर्व क्षेत्र का वित्तीय, वाणिज्यिक और औद्योगिक केंद्र है. कोलकाता की जीडीपी $150.1 बिलियन आंकी गई है.

4. बेंगलुरु – Bangalore

Bharat Ka Sabse Amir Shahar Konsa Hai - भारत के 10 सबसे अमीर शहर जाने यहां

बेंगलुरु भारत के सबसे अमीर शहरों में चौथे स्थान पर आता है. आपको बता दें कि भारत का बेंगलुरु शहर अपनी तकनीक के लिए काफी मशहूर है. दुनिया की कई बड़ी कंपनियां यहां काम करती हैं. इतना ही नहीं, बेंगलुरु देश का सबसे बड़ा आईटी हब है. इसके अलावा, यहां भारत की अंतरिक्ष एजेंसी इसरो स्थित है. साथ ही यहां 7700 करोड़पति और 8 अरबपति रहते हैं. जिनकी कुल अनुमानित जीडीपी 110 अरब डॉलर है.

5. हैदराबाद – Hyderabad

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद का भारत की अर्थव्यवस्था के विकास में बहुत बड़ा योगदान है. यह भारत का पांचवां सबसे अमीर शहर है. आपको बता दें कि हैदराबाद का प्राचीन नाम भाग्य नगर था, जो काफी ऐतिहासिक शहर माना जाता था. इसे मोतियों का शहर भी कहा जाता है. साथ ही यह शहर अपने इतिहास, खान-पान और बहुभाषी संस्कृति के लिए जाना जाता है. हैदराबाद में करीब 9,000 करोड़पति और 6 अरबपति हैं. हैदराबाद की कुल जीडीपी 75.2 अरब डॉलर है.

6. चेन्नई – Chennai

चेन्नई सबसे अमीर शहरों की सूची में छठे नंबर पर आता है. यह शहर ऑटोमोबाइल, सॉफ्टवेयर सेवाओं तथा हार्डवेयर निर्माण के लिए प्रसिद्ध है. यानी चेन्नई को देश का दूसरा सबसे बड़ा आईटी हब माना जाता है. बता दें कि चेन्नई तमिलनाडु की राजधानी है. और यह शहर आर्थिक रूप से बहुत अच्छा है. यहां करीब 6,600 करोड़पति और 4 अरब अरबपति रहते हैं. चेन्नई की कुल जीडीपी 66 अरब डॉलर है. इसलिए चेन्नई है

7. अहमदाबाद – Ahmedabad

अहमदाबाद इस सूची में सातवें स्थान पर आता है. और यह गुजरात की राजधानी भी है. इस शहर में बहुत अमीर लोग हैं, जो इस शहर में अडानी ग्रुप, अरविंद मिल्स, निरमा, कैडिला आदि जैसी देश की बड़ी कंपनियों का केंद्र है. अहमदाबाद डेनिम के साथ-साथ गहनों और रत्नों का सबसे बड़ा निर्यातक शहर है. इस शहर की कुल जीडीपी 64 अरब डॉलर है.

8. पुणे – Pune

पुणे, महाराष्ट्र का दूसरा सबसे बड़ा शहर, भारत के सबसे अमीर शहरों की सूची में आठवें स्थान पर है. और यह मुंबई से लगभग 150 किमी दूर है. आपको बता दें कि पुणे में आईटी कंपनियों और ऑटोमोबाइल का काम बहुत तेजी से बढ़ रहा है. पुणे में 45,00 करोड़पति और 5 अरबपति रहते हैं. इसकी कुल जीडीपी 48 अरब डॉलर है.

9. सूरत – Surat

सूरत भारत का नौवां सबसे अमीर शहर है. सूरत अपने हीरों के निर्यात के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है. ऐसा माना जाता है कि भारत के 90% हीरे सूरत से निर्यात किए जाते हैं. इसलिए सूरत को भारत का डायमंड हब भी कहा जाता है. यह शहर बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है. सूरत को भारत के सबसे स्वच्छ शहरों में से एक माना जाता है. सूरत की जीडीपी 40 अरब डॉलर है.

10. विशाखापट्टनम – Visakhapatnam

विशाखापत्तनम भारत के सबसे अमीर शहरों की सूची में दसवें स्थान पर आता है. और यह लोकप्रिय रूप से विजाग के रूप में माना जाता है और साथ ही यह आंध्र प्रदेश में उत्तरी गोदावरी नदी के तट पर स्थित है. विशाखापत्तनम को विजंग के नाम से भी जाना जाता है. यहां बड़े पैमाने पर कारोबार होता है. विशाखापत्तनम की कुल जीडीपी 26 अरब डॉलर है.नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *