हद हो गई! 2-3 नहीं बल्कि 7 लोग बाइक पर बैठे और फिर सड़क पर ऐसे दौड़ाई गाड़ी; चौंकाने वाला Video वायरल

हद हो गई! 2-3 नहीं बल्कि 7 लोग बाइक पर बैठे और फिर सड़क पर ऐसे दौड़ाई गाड़ी; चौंकाने वाला Video वायरल

हाल ही में एक वीडियो सामने आया है जिसमें सात लोगों का एक परिवार एक ही बाइक पर सवार होता दिख रहा है. इस घटना से सोशल मीडिया पर लोगों के बीच बहस छिड़ गई है. ब्यूरोक्रेट सुप्रिया साहू द्वारा ट्विटर पर अपलोड की गई क्लिप में एक व्यक्ति अपनी मोटरसाइकिल पर आगे बैठा दो बच्चे बैठाता है और फिर तीन अन्य बच्चे व दो महिलाएं वाहन पर बैठने का इंतजार कर रही हैं. जल्द ही एक और बच्चे को बाइक पर एडजस्ट करते देखा जा सकता है, जिसके बाद परिवार के बाकी लोग भी मोटरसाइकिल पर सवार हो जाते हैं. यह भी देखा जा सकता है कि न तो बाइक सवार शख्स और न ही महिलाएं व बच्चे हेलमेट पहने हुए हैं. आईएएस अधिकारी ने कैप्शन में लिखा- ‘मैं तो निशब्द रह गई.’

बाइक पर बच्चे-महिलाओं समेत बैठ गए 7 लोग

जैसा कि आप वीडियो में देख सकते हैं कि कैसे बाइक पर लोग बैठना शुरू करते हैं. नीली रंग की साड़ी में एक महिला एक बच्चे को उठाकर बाइक पर बैठे शख्स के आगे बैठाती है और उसके बाद एक दूसरे बच्चे को भी शख्स के आगे बैठा देती है. बाइक सवार के पीछे एक दूसरी महिला बैठती है और ठीक ढंग से सभी एडजस्ट हो जाए, इसलिए उसने अपने एक पैर के ऊपर दूसरा पैर रख दिया और उसकी के ऊपर एक बच्चे को बैठा लिया. इसके बाद नीली साड़ी वाली महिला ने आखिरी बच्चे को उठाया और बाइक पर सबसे पीछे बैठ गई. कुल मिलाकर इस बाइक पर सात लोग मौजूद हैं. हैरानी वाली बात यह है कि सामने सड़क से बस समेत भारी वाहन तेज रफ्तार में दौड़ रही हैं.

सोशल मीडिया पर वीडियो जमकर हो रहा वायरल

वीडियो को ट्विटर पर 1.2 मिलियन से अधिक बार देखा जा चुका है और यूजर्स से अलग-अलग प्रतिक्रियाएं मिली हैं. कई लोगों ने इस बात पर प्रकाश डाला कि कैसे लोग यातायात नियमों का उल्लंघन करके अपनी जान जोखिम में डाल रहे थे, जबकि अन्य ने तर्क दिया कि उन्होंने उचित परिवहन सुविधाओं की कमी के कारण इसका सहारा लिया. एक यूजर ने लिखा, ‘एक दोपहिया वाहन में 7 व्यक्ति. दुपहिया वाहन फिसला तो बच्चों का क्या होगा? दोपहिया वाहन के मालिक व सवार को गिरफ्तार किया जाना चाहिए और ड्राइविंग लाइसेंस रद्द किया जाना चाहिए.’ वीडियो में से कुछ ने स्क्रीनग्रैब साझा किए, जिसमें दिखाया गया है कि यातायात नियमों को तोड़ने वाला परिवार अकेला नहीं था.

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *