आपकी Bullet बाइक में नहीं है Fuel मीटर? ऐसे मिलेगी तेल कम होने की वार्निंग, आसान है ट्रिक l देखिए video

आपकी Bullet बाइक में नहीं है Fuel मीटर? ऐसे मिलेगी तेल कम होने की वार्निंग, आसान है ट्रिक l देखिए video

रॉयल एनफील्ड की बाइक्स अपने रेट्रो लुक के कारण जानी जाती हैं. कंपनी अपनी बाइक्स को बहुत ज्यादा फीचर लोडेड नहीं बनाती. यहां तक कि अभी भी रॉयल एनफील्ड की Bullet 350 में फ्यूल गेज मीटर नहीं दिया गया. इसमें सिर्फ एक इंडिकेटर मिलता है, जो कुछ सालों से ही मिलना शुरू हुआ है. बड़ी संख्या में ऐसे लोग मौजूद हैं जो बिना फ्यूल मीटर वाली बुलेट का इस्तेमाल कर रहे होंगे. ऐसे लोगों के लिए सबसे बड़ी चुनौती होती है कि वह कैसे जानें कि उनकी बाइक का तेल खत्म होने वाला है. इसलिए आज हम आपको एक ट्रिक बता रहे हैं, जो आपको तेल खत्म होने पर इस भारी-भरकम बुलेट का धक्का लगाने से छुटकारा दिला देगी.

क्यों नहीं मिलता था फ्यूल मीटर

रॉयल एनफील्ड की बाइक्स में फ्यूल मीटर क्यों नहीं दिया जाता? लाखों-करोड़ों ग्राहकों के मन में अब तक यह सवाल रहता है. कंपनी की तरफ से इसकी कोई पुख्ता वजह तो नहीं बताई गई, लेकिन रिपोर्ट्स में अलग-अलग दावे किए जाते रहे हैं. कुछ का कहना है कि ऐसा रेट्रो लुक को बनाए रखने के लिए किया जाता था. जबकि कुछ का मानना है कि कंपनी फीचर्स के मामले में थोड़ी पीछे है. खैर वजह कोई भी हो. फिलहाल हम उस ट्रिक के बारे में जान लेते हैं.

आपकी Bullet बाइक में नहीं है Fuel मीटर? ऐसे मिलेगी तेल कम होने की वार्निंग, आसान है ट्रिक

इस ट्रिक का करें इस्तेमाल

दरअसल, कंपनी भले ही फ्यूल मीटर न देती हो, लेकिन आपकी बुलेट बाइक में रिजर्व फ्यूल (Reserve Fuel) की सुविधा जरूर होगी. रिजर्व लगने के बाद भी यह बाइक लगभग 50KM तक चल जाती है. आपको बस इसी सुविधा का इस्तेमाल करना है. इसके लिए आपको अपनी बाइक में रिजर्व फ्यूल से ज्यादा तेल भराना है. उदाहरण के लिए आप 2 या 3 लीटर से ज्यादा तेल भराएं.

अपनी बाइक को हमेशा रिजर्व फ्यूल से ज्यादा ही रखें. जब भी बाइक में रिजर्व लगे तो आपको ध्यान रखना है कि जल्द से जल्द तेल भराना है. यानी रिजर्व फ्यूल का कम से कम इस्तेमाल करना है. इससे हर बार जब भी आपका रिजर्व फ्यूल लगेगा तो आपको अंदाजा हो जाएगा कि तेल खत्म होने वाला है. इस तरह आप धक्का लगाने से बच जाएंगे.नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *