सोते वक्त पेड़ की डालियों से नीचे क्यों नहीं गिरते पक्षी? नहीं जानते होंगे ये हैरान करने वाला कारण l देखिए video

सोते वक्त पेड़ की डालियों से नीचे क्यों नहीं गिरते पक्षी? नहीं जानते होंगे ये हैरान करने वाला कारण l देखिए video

इंसान जब गहरी नींद में सोता है तो वो होश में बिल्कुल भी नहीं रहता. ऐसे में कई बार लोग करवट बदलते वक्त बिस्तर से जमीन पर गिर जाते हैं. इतनी संतुलित अवस्था में सोने के बाद भी लोग बिस्तर से गिर पड़ते हैं मगर क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसे हादसे पक्षियों के साथ क्यों नहीं होते जो पेड़ की डालियों (Why Don’t Birds Fall Off Branches When They Sleep) पर सोते हैं?

इस सवाल का जवाब जानने के लिए पहले तो ये जान लीजिए कि चीड़िया सोती (How Birds Sleep) कैसे हैं. पंछी भी सोते हैं मगर इंसानों की तरह नहीं. इंसान जैसे अन्य मैमल ज्यादा देर तक सोते हैं और उन्हें गहरी नींद (Birds sleeping facts) आती है. नींद के दौरान एक वक्त ऐसा आता है जिसमें हमारी नींद सबसे गहरी होती है. इसी समय हमें सपने भी आते हैं. ये दौर हमारे लिए कुछ मिनट तक का होता है मगर पक्षियों के लिए महज 10 सेकेंड का होता है. यानी पक्षी छोटी-छोटी नींद लेकर सोते हैं.

एक आंख खोलकर भी सो सकती है चिड़िया

क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसे हादसे पक्षियों के साथ क्यों नहीं होते जो पेड़ की डालियों (Why Don’t Birds Fall Off Branches When They Sleep) पर सोते हैं? इस सवाल का जवाब जानने के लिए पहले तो ये जान लीजिए कि चीड़िया सोती (How Birds Sleep) कैसे हैं.

मजेदार बात ये है कि पक्षी कई बार एक आंख खोलकर भी सोते हैं. वो अपने दिमाग को इस तरह से कंट्रोल कर लेते हैं कि सोने के वक्त उनके दिमाग का कोई एक भाग यानी लेफ्ट हेमिस्फियर या राइट हेमिस्फियर एक्टिव रहता है. जो सा दिमाग एक्टिव होता है, उसके विपरीत आंख खुलती है. मतलब अगर लेफ्ट हेमिस्फियर एक्टिव है तो दाईं आंख खुलती है. इस तरह की नींद लेने की क्षमता के चलते ही चिड़िया अपने आप को तब भी किसी खतरे से बचा सकती है जब वो सो रही है. यानी वो सोते वक्त भी शिकारी के नजदीक होने के एहसास को भांप सकती है.

सोते वक्त डालियों से क्यों नहीं गिरते पक्षी?

सोते वक्त डालियों से ना गिरने का पहला कारण तो यही है कि उनके दिमाग का एक हिस्सा जगा रहता है. दूसरा कारण है उनके पैरों की बनावट. प्रकृति ने उन्हें किसी भी वस्तु को जकड़ने की क्षमता दी है. जब वो सोने के लिए पेड़ पर बैठती हैं तो उनके पंजे टहनियों को जकड़ लेते हैं. वो तब तक नहीं छोड़ते जब तक पक्षी के पैर फिर से सीधे ना हो जाएं जब वो नींद से जागती हैं. ऐसे में ये एक तरह का लॉक का काम करता है. आपको जानकर हैरानी होगी कि इसी तरह के लॉक के कारण तोते जैसे पक्षी टहनी पर झूलते हुए भी सो सकते हैं.नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *