भीगे हुए अंजीर खाने के फायदे कर देंगे हैरान

भीगे हुए अंजीर खाने के फायदे कर देंगे हैरान

भीगे अंजीर के फायदे और नुकसान कई होते हैं। अंजीर एक प्रकार का फल है, जिसका सेवन फल और ड्राई फ्रूट दोनों प्रकार से किया जा सकता है। अंजीर (Anjeer) को अंग्रेजी में Fig (फिग) कहा जाता है और अंजीर की तासीर गर्म होती है। अंजीर मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं, एक जिसकी खेती की जाती है, इस अंजीर के पत्ते व फल बड़े-बड़े होते है। दूसरा जंगली अंजीर, इस अंजीर के फल और पत्ते खेती वाले अंजीर से छोटे होते हैं। भारत में अंजीर की खेती मुख्य रूप से कर्नाटक, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, गुजरात और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में की जाती है।

भीगे अंजीर खाने के फायदे

सर्दी-जुकाम को ठीक करने के लिए

अंजीर की तासीर गर्म होती है इसलिए सर्दी-जुकाम के दौरान भीगे हुए अंजीर का सेवन सर्दी-जुकाम से राहत दिलाने में मदद करता है। इसके लिए आप पानी में 4 से 5 अंजीर को डालकर उबाल लें। इस पानी का गर्म-गर्म सुबह- शाम सेवन करने से सर्दी-जुकाम दूर हो जाता है।

पाचन स्वास्थ्य के लिए

अंजीर में फाइबर की उच्च मात्रा पाई जाती है, जो पाचन में सुधार कर, भोजन को अच्छे से पचाने का कार्य करती है और पाचन तंत्र मजबूत बनाये रखने में सहायक होती है। इसके लिए आप रात को 3 से 4 सूखे अंजीर को पानी में डालकर रख दें और सुबह खाली पेट इन अंजीर का सेवन करें, यह पाचन को स्वस्थ रखने के साथ पाचन से जुड़ी समस्याओं को भी दूर करता है।

खांसी को दूर करने के लिए

भीगे अंजीर का सेवन करने से सूखी खांसी दूर हो जाती है। अंजीर पुरानी खांसी वाले रोगी को लाभ पहुंचाता है क्योंकि अंजीर में पाए जाने वाले पोषक तत्व, बलगम को पतला करके बाहर निकालने का कार्य करते है और खांसी को दूर करते है। खांसी की समस्या के दौरान अंजीर से बने काढ़े का सेवन करें।

अस्थमा रोग से बचाव के लिए

अस्थमा रोगियों के लिए अंजीर खाना फायदेमंद होता है क्योंकि अंजीर में पाए जाने वाले पोषक तत्व, कफ को बाहर निकलने में मदद करते है। इसके लिए आप 2 से 4 अंजीर सुबह व शाम दूध में गर्म करके खाये। यह कफ की मात्रा को घटता है और अस्थमा रोग से राहत दिलाने में मदद करता है।

रक्त विकार को दूर करने के लिए

दूध में अंजीर भिगोकर सेवन करने से रक्त में वृद्धि होती है और रक्त विकार दूर होते हैं। इसके अलावा 2 अंजीर को बीच से आधा काट कर एक गिलास पानी में रात को भिगोकर रख दें और सुबह खाली पेट पानी व अंजीर का सेवन करें, यह रक्त संचार को बढ़ाने में मदद करता है।

महिलाओं की प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए

महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे – भीगे हुए अंजीर का सेवन, महिलाओं की प्रजनन क्षमता को बेहतर बनाने में मदद करता है। इसके अलावा अंजीर में पाए जाने वाले पोषक तत्व, पुरुषों की प्रजनन क्षमता और यौन शक्ति को बढ़ा सकते है। इसके लिए आप रोजाना रात को एक गिलास दूध में 3 से 4 अंजीर डालकर उबाल लें और फिर इसका सेवन करें।

उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए

अंजीर में पोटेशियम की उच्च मात्रा पायी जाती है इसलिए अंजीर का सेवन उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। इसके लिए आप रात को 4 से 5 अंजीर को पानी में भिगो दें और सुबह खली पेट इसका सेवन करें, यह उच्च रक्तचाप को कम कर, उसे सामान्य रखने में मदद करेगा।

हड्डियों को मजबूत बनाये रखने के लिए

अंजीर में कैल्शियम की भरपूर मात्रा पायी जाती है, जो हड्डियों को स्वस्थ व मजबूत बनाये रखने में सहायक होती है। इसके लिए आप नियमित रूप रात को 4 से 5 अंजीर को दूध में भिगोकर रख दें और सुबह खाली पेट इन अंजीर व दूध का सेवन करें। यह हड्डियों को स्वस्थ व मजबूत बनाये रखने के साथ बढ़ती उम्र में होने वाले हड्डी फ्रैक्चर के जोखिम से भी बचता है।

बवासीर रोग से बचाव के लिए

बवासीर रोग मुख्य रूप से कब्ज की समस्या के कारण होता है। अंजीर में मौजूद फाइबर, कब्ज की समस्या को दूर करता है और बवासीर रोग से बचाव करने में सहायक होता है। अगर किसी व्यक्ति को बवासीर रोग है तो वह व्यक्ति 3 से 4 अंजीर को रात को पानी में भिगोकर रख दें और सुबह खाली पेट इन अंजीर का सेवन करें यह बवासीर रोग को ठीक करने में मदद करता है।

रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए

अंजीर में इम्यूनोमॉड्यूलेटर गुण पाए जाते हैं, जो प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर कर, शरीर को कई बीमारियों से बचाते हैं। इसके लिए आप दूध में 2 से 4 अंजीर को डालकर उबाल लें और इसके बाद थोड़ा ठंडा होने पर इसका सेवन कर सकते हैं।

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *