भारत की 10 बड़ी कंपनियां जिनका कोई मुकाबला नहीं । देखिए video

भारत की 10 बड़ी कंपनियां जिनका कोई मुकाबला नहीं । देखिए video

क्या आप जानते हैं कि भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक है हालांकि भारत विकासशील देश है लेकिन भारत में ऐसी कंपनियां मौजूद है जो महीने का करोड़ों रुपए तक कमाती है भारत में मौजूद यह कंपनियां पूरे विश्व के व्यवस्था पर प्रभाव डालती है इसी कारण यदि भारत के अर्थव्यवस्था में कोई बदलाव आता है या उतार-चढ़ाव आता है तो पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था पर भी इसका प्रभाव देखने को मिलता है, लेकिन कंपनी के सफलता बाजार पूंजीकरण पर निर्भर करती है की आपकी कंपनी को कितना लाभ होगा या कितना नुकसान हुआ यह मार्केट पुंजीकरण पर निर्भर करता है बाजार पूंजीकरण को कंपनी के शेयरों के मौजूदा बाजार मूल्य के प्रोडक्ट के रूप में देखा जा सकता है, आसान भाषा में समझा जाये तो बाजार पंजीकरण स्टॉक का मूल्य है जो जनता द्वारा सभी कंपनियों के शेयरों के लिए रखा जाता है, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सभी देशों की बाजार पूंजीकरण स्थिति समय-समय पर बदलते रहते हैं इसलिए जो कंपनी नंबर 1 के स्थान पर है वह कभी भी अंतिम नंबर पर भी आ सकती है इसमें कुछ भी निर्धारित नहीं होता।

भारत की सबसे बड़ी कंपनी का नाम ?

बिज़नस इनसाइडर की रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस और टाटा भारत की सबसे बड़ी कंपनी है। इसमें समय समय पर बदलाव होता रहता है। कभी रिलायंस आगे हो जाती है, तो कभी टाटा। अगर 2021 की बात करे, तो अभी रिलायंस भारत की सबसे कंपनी है। आज अपने आर्टिकल में हम यही बात करेंगे कि भारत की 10 बड़ी कंपनियां जो हर महीना बहुत अच्छा मुनाफा करती, कंपनियां कब से स्थापित है इन सभी विषयों पर आज हम अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको जानकारी देंगे तो आइये जानते हैं कि भारत की वह 10 बड़ी कंपनियां कौन सी है,

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज़ (TCS)

भारत की सबसे बड़ी कंपनी टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज है यह भारतीय बहुराष्ट्रीय कंपनी है जो व्यापार समाधान क्षेत्र और इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी सर्विस के लिए काम करती है, इसके बाजार पूंजीकरण मूल्य की बात की जाए तो यह 473,149.01 करोड़ है और इसका रिवेन्यू $16.54 है, बाजार पुंजीकरण में यह कंपनी सबसे बड़ी कंपनियों में से है, यहां तक कि फॉर्च्यून इंडिया के लिस्ट में यह दसवें स्थान पर आती है इसके अलावा फॉर्ब्स इनोवेटिव कंपनी की रैंकिंग में यह 64वें स्थान पर आती है इस कंपनी ने सिर्फ भारत में नहीं बल्कि भारत के बाहर पूरे विश्व में 46 देशों में अपना कार्यालय बनाया है जिसमें लगभग 378,500 कर्मचारी मौजूद है जो इस कंपनी के लिए काम करते हैं, इस कंपनी का हेड क्वार्टर भारत में मुंबई महाराष्ट्र में मौजूद है जिसकी नेट इनकम 89,603.67 करोड़ों रुपए है इम जानकारियों के बाद आपके अंदाजा लगा सकते हैं कि यह कंपनी कितनी बड़ी कंपनी है।

HDFC बैंक

एचडीएफसी बैंक लिमिटेड की स्थापना 1994 में की गई थी, यह फाइनेंसियल सर्विस पर आधारित कंपनि है इस कंपनी का बाजार पुंजीकरण मूल्य 366, 692.6 करोड़ रुपए है इसकी संपत्ति के आधार पर आप यह कह सकते हैं कि यह दूसरा सबसे बड़ा प्राइवेट सेक्टर लेंडर है अर्थात दूसरा सबसे बड़ा निजी क्षेत्र का ऋंणदाता है, एचडीएफसी बैंक लिमिटेड कंपनी का रिवेन्यू $ 11 बिलियन है, एचडीएफसी बैंक लिमिटेड के पास 90,421 कर्मचारियों की संख्या है, और 42,281 से अधिक इनकी ब्रांच है, भारत में एचडीएफसी बैंक लिमिटेड के 12,054 एटीएम है जिससे इनके यूजर्स को कोई दिक्कत परेशानी ना हो, एचडीएफसी बैंक लिमिटेड का हेड क्वार्टर मुंबई महाराष्ट्र मैं मौजूद है

रिलायंस इंडस्ट्री लिमिटेड (RIL)

इस इंडस्ट्री के बारे में हम में से बहुत से लोग जानते होंगे कि रिलायंस इंडस्ट्री क्या है हम सभी जानते है रिलायंस इंडस्ट्री के मालिक मुकेश अंबानी है जिन्होंने बहुत कम समय में इस कंपनी को एक बड़े मुकाम पर लाकर खड़ा कर दिया है यह एक बहुराष्ट्रीय कंपनी है इसकी स्थापना 1966 में की गई थी यह कंपनी तेल, पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस कपड़ा, जैसे कार्य करती है, रिलायंस कंपनी दुनिया भर के सबसे बड़े कंपनियों मैं फार्च्यून ग्लोबल के अंतर्गत 500 की लिस्ट में आती है, और जियो जो कि रिलायंस की कंपनी का ही एक हिस्सा है वर्तमान समय में 23 करोड़ से अधिक उसके यूजर्स मौजूद हैं, रिलायंस इंडस्ट्री लिमिटेड अब बाजार पूंजीकरण मूल्य 459, 006.5 करोड़ रुपए है और इसका रिवेन्यू $ 44 है बाकी आप मुकेश अंबानी को तो आप जानते ही हैं यह भारत के सबसे अमीर व्यक्ति हैं।

ITC लिमिटेड

आईटीसी की स्थापना 1910 में हुई थी, यह एक मल्टीनेशनल कंपनी है, आईटीसी लिमिटेड 5 क्षेत्रों में कार्य करता है जिनमें उपभोक्ता सामान, होटल पेपर बोर्ड पैकेजिंग, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी कृषि व्यवसाय शामिल है यह भारत की 10 बड़ी कंपनियों में चौथे स्थान पर आती है, जिसका मार्केट पंजीकरण मूल्य 338, 582.98 करोड़ है, इसका रेवेन्यू $ 8 बिलियन है, इस कंपनी के भारत में 60 से ज्यादा अधिक ब्रांच है जिनमें 25,000 से अधिक लोग काम करते हैं, यहां तक कि यह फॉर्ब्स के शीर्ष 2000 कंपनियों में आईटीसी लिमिटेड का भी नाम है, उसके नेट इनकम की बात की जाए तो वह 1.4 बिलियन डॉलर है

आयल एंड नेचुरल गैस कारपोरेशन

यह पब्लिक सेक्टर कंपनी है जिसकी स्थापना 1956 में की गई थी, यह कंपनी भारत के कुल कच्चे तेल का 77% और और प्राकृतिक गैस ओं का 62% उत्पादन करती है, इस कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों की संख्या 30000 से भी अधिक है, इसका बाजार पुंजीकरण मूल्य 239,019.01 करोड़ है, साथ ही इसका रेवेन्यू $21 बिलियन है, इस कंपनी का हेड क्वार्टर भारत के उत्तराखंड में मौजूद और भारत के 10 बड़ी कंपनियों में पांचवे स्थान पर आती है।

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI)

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया फाइनेंसर छेत्र के लिए काम करती है जैसे बैंकिंग, कॉरपोरेट बैंकिंग, बीमा, निवेश बैंकिंग आदि जैसे क्षेत्रों में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया कार्य करती है संपत्ति के आधार पर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया भारत की सबसे बड़ी फाइनैंशल बैंकिंग कंपनि है जिसके 14000 से भी कार्यालय बनाए जा चुके हैं और 36 अधिक देशों में से कार्यालय हैं, इसके मार्केट पंजीकरण मूल्य के बाद कोई जाए तो वह 237, 092.15 करोड़ रुपए है और इसका रेवेन्यू $41 बिलियन हैं इससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है की यह कितनी बड़ी कंपनी है।

हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कारपोरेशन

यह कंपनी लोगों को लोन देने का कार्य करती है हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन ने अब तक 50,000 आवासीय और गैर आवासीय इकाइयों को लोन दे रखा है, हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन की स्थापना 1977 में की गई थी, जिसकी मार्केट पूंजीकरण मूल्य 236,328.46 करोड़ रुपए है और इसका रिवेन्यू $ 4.63 बिलियन है, हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन और भी कई प्रकार के लोन देती है जैसे एजुकेशनल लोन, लाइफ एंड जनरल इंश्योरेंस आदि, हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन बहुत कम समय में भारत की 10 बड़ी कंपनियों में से सातवें स्थान पर आ गई है।

इनफ़ोसिस (infosys)

भारत आईटी क्षेत्र में इंफोसिस कंपनी सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है, 1981 में शामिल किया गया था, यह कंपनी बिजनेस कंसलटिंग, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी जैसी सेवाएं मुहैया कराती हैं, इंफोसिस कंपनी के 85 सेल्स और मार्केटिंग ऑफिस मौजूद है इसके अलावा इंफोसिस कंपनी है कि 114 डेवलपमेंट सेंटर है, इस कंपनी का बाजार पुंजीकरण मूल्य 228,764.2 करोड़ है और साथ ही इसका रेवेन्यू $ 10.1 बिलियन है, इंफोसिस की नेट इनकम 70000 करोड़ है, और वर्तमान समय में भारत की 10 बड़ी कंपनियों मैं आठवें स्थान पर आती है।

मारुती सुजुकी (maruti suzuki )

मारुति सुजुकी कंपनी भारत की सबसे पुरानी कंपनियों में से एक है जिसकी स्थापना 1800 में की गई थी, इंडियन पैसेंजर कार मार्केट में मारुति सुजुकी की 51% शेयर की हिस्सेदारी है, मारुति सुजुकी ऑटोमोबाइल निर्माता कंपनी है जो कई तरह की पॉपुलर कार बनाती हैं जैसे स्विफ्ट डिजायर, बलेनो, अर्टिगा आदि जैसे कार मारुति सुजुकी बना चुकी है, मारुति सुजुकी ने 2012 में अपने एक करोड़ कार की बिक्री पूरी की थी जो कि अपने आप में एक बड़ी बात है, मारुति सुजुकी की नेट इनकम 690 मिलियन डॉलर के आसपास है 7s का बाजार पूंजीकरण मूल्य 191,591.26 करोड़ रुपए है और रेवेन्यू $ 8.7 बिलियन है, मारुति सुजुकी कंपनी में 12 साल से अधिक कर्मचारी कार्य करते हैं जिनकी मदद से कंपनी और आगे बढ़ते जा रही है।

हिंदुस्तान युनीलेवेर लिमिटेड

हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड कंपनी भारत की 10 बड़ी कंपनियों में से एक है जिसकी स्थापना 1933 में की गई थी यह कंपनी फूड्स और पर्सनल केयर जैसी सेवाएं उपलब्ध कराती हैं, इस क्षेत्र में पूरे भारत में इसकी 60% की हिस्सेदारी, इस कंपनी के 35 ब्रांड है जिनमें से बहुत से ऐसे ब्रांडो में जो आप इस्तेमाल कर चुके होंगे या करते होंगे जैसे डव, लक्स, फेयर एंड लवली जो अब ग्लो एंड लवली हो गया है जैसे ब्रांड हिंदुस्तान युनिलीवर लिमिटेड के ही हैं, इसके बाजार पूंजीकरण बोलने के बाद की जाए तो यह 202,435.43 करोड़ है जबकि इसका रिवेन्यू 4.5 बिलियन है, हिंदुस्तान युनिलीवर लिमिटेड कंपनी की नेट इनकम 640 मिलियन डॉलर के आसपास है।

बाजार पूंजीकरण (market capatalization)

आपके मन में अगर यह सवाल आया होगा की बाजार पुंजीकरण क्या होता है तो आइए इसे समझते हैं दरअसल होता यह है कि किसी भी कंपनी की सफलता के पीछे मार्केट केपीटलाइजेशन की महत्वपूर्ण भूमिका होती है, जब कोई इन्वेस्टर किसी भी कंपनी में निवेश करता है तो उससे पहले उस कंपनी की मार्केट केपीटलाइजेशन को जरूर नाचता है और उसके बाद ही उस कंपनी में इन्वेस्ट करता है, इसलिए यह कह सकते हैं कि मार्केट केपीटलाइजेशन किसी भी कंपनी के सफलता का एक पैरामीटर होता है। नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *