90 Seconds में किसी को भी आकर्षित करो | देखिए video

90 Seconds में किसी को भी आकर्षित करो | देखिए video

क्या आप लोगों से बात करने में हिचकिचाते हैं। क्या आप जानना चाहते हैं। कैसे आप किसी को कम समय में, अपना अच्छा दोस्त बना सकते हैं। दूसरों से बात करना। हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा है। किसी अजनबी से बात करने में, जितनी हिचकिचाहट आपको होती है। उतनी ही हिचकिचाहट उस अजनबी को, आपसे बात करने में होती है। ऐसे में, अगर आप किसी से बात करना चाहे। तो आप इसकी शुरुआत कैसे करेंगे।

इसके अलावा आप उस अजनबी की हिचकिचाहट को कम कर, उसे बात करने के लिए कैसे तैयार करेंगे। यह book आपके इन्हीं सवालों का जवाब देती है। इसे पढ़कर आप सीखेंगे। किसी अजनबी से कैसे बात की जाती है। बात करने में body language का क्या महत्व है। किस तरह किसी के आंखों की हरकतों से, आप उसके स्वभाव के बारे में बता सकते हैं।

जब आप किसी नए इंसान से मिलते हैं। तो 90 सेकंड के अंदर, आपका दिमाग decide कर लेता है। आप उस इंसान के बारे में क्या सोचते हैं। हो सकता है कि आप सोचते हो कि यह इंसान बहुत smart है। बहुत intelligent है या बहुत funny है। या हो सकता है कि आप यह सोचते हो। यह इंसान बहुत ज्यादा बेवकूफ है। बहुत ज्यादा irritating है। यह बंदा बहुत ज्यादा serious है।

अब इसी तरीके से, आप जितने भी इंसानों से अपनी जिंदगी में मिलते हैं। उन सबका आपके बारे में, एक impression होता है। उनके दिमाग में। क्या आप जानना चाहेंगे कि वह impression क्या है। दूसरों के दिमाग को पढ़ने का कोई तरीका तो नहीं है। लेकिन जो चीजें आप इस book summary में पढ़ेंगे। तो यह जरूर guaranteed हो जाएगा कि लोग आपके बारे में, हमेशा अच्छी चीजें ही सोचें। वह आपको पसंद करे।

जो कि एक हावर्ड यूनिवर्सिटी ग्रेजुएट हैं। उनकी एक study यह proof कर चुकी है। जो लोग दूसरों से connect करने में डरते हैं। या फिर अपनी life में quality relationship, established नहीं कर पाते हैं। ऐसे लोगों के mental illness से मरने के chances 3 गुना ज्यादा बढ़ जाते हैं। वही जो लोग ज्यादा मिलते-जुलते है। जिनका social circle अच्छा होता है।

उन लोगों के न तो बीमारियां ज्यादा होती है। न ही उनके जल्दी मरने के chances होते है। यानी कि हमारे लिए socialism बहुत ही ज्यादा important होता है। आपने जरूर नोट किया होगा। कई बार ऐसे लोग होते हैं। जिन्हें देखकर मजा आ जाता है। अगर वह आपकी महफिल में आ गए। तो ऐसा लगता है। जैसे महफिल में एकदम से जान आ गई हो।

इस तरह bonding करना, केवल आपकी मेंटल हेल्थ के लिए जरूरी नहीं है। वरन यह quality, आपकी सफलता पर भी impact डालती है। । आपने observe जरूर किया होगा। जिन लोगों का सोशल नेटवर्क काफी बड़ा होता है। उनके लिए, अपने dreams को achieve करना काफी आसान हो जाता है। जब आपका सोशल नेटवर्क बड़ा होगा। तो आपके colleagues या आपके collage friends। आपको नई opportunity के बारे में बता पाएंगे।

आप blind date भी setup कर पाएंगे। और न जाने क्या-क्या। लेकिन इस first impression को जमाने के लिए, हमारे पास सिर्फ 90 सेकंड का ही टाइम होता है। सिर्फ शुरू के 90 सेकंड ही, यह decide कर देते हैं। सामने वाला आपके बारे में क्या सोचता है। अब ऐसा क्या करें। इन 90 सेकंड में, जिससे great first impression जमा पाए। इसका खुलासा आगे, आपको जरूर लाभ पहुंचाएगा।

क्यों जरूरी है कि लोग आपको पसंद करें। क्योंकि जब लोग हमें पसंद करते हैं। तो वह हमारे सर्वश्रेष्ठ पहलुओं को देखते हैं। लेकिन अगर, वह हमें पसंद नहीं करते हैं। तो वह शुरू से ही हमारी गलतियों को देखते हैं। हमारी कमियों को देखते हैं। अगर आपका manager आपको पसंद करता है। तो वह आपके Self-confidence को, आपके साहस की निशानी मानेगा।

लेकिन अगर वह पसंद नहीं करता है। तो वही वह मन ही मन मे सोचेगा। कितना अखड़ू व्यक्ति है। यह व्यक्ति बिल्कुल अच्छा नहीं है। क्योंकि वह आपको पसंद नहीं करता है। Of course, सवाल यह उठता है, कि लोग कैसे व्यक्ति को पसंद करते हैं। निश्चित ही, लोग ऐसे ही व्यक्ति को पसंद करते हैं। जो energetic है। जो मिलनसार है। जो स्वस्थ हैं।

लोग आपके body language से, आपके शब्दों से, आपके बोलने के लहजे से। आपकी आंखों से, आपके response से, हमेशा assessment करते रहते हैं। हम लोगों को assessment करने से नहीं रोक सकते। लेकिन हम लोगों के आकलन को अपने पक्ष में कर सकते हैं। यह सारी qualities, अगर हमें अपने अंदर लानी हैं। तो वह 90 सेकेंड के अंदर ही लानी पड़ेगी। नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल) [ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. EkBharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Rutvisha patel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *